अन्तरजाल पर
साहित्य-प्रेमियों की विश्राम-स्थली

काव्य साहित्य

कविता गीत-नवगीत गीतिका दोहे कविता - मुक्तक कविता - क्षणिका कवित-माहिया लोक गीत कविता - हाइकु कविता-तांका कविता-चोका महाकाव्य खण्डकाव्य

शायरी

ग़ज़ल नज़्म रुबाई कतआ

कथा-साहित्य

कहानी लघुकथा सांस्कृतिक कथा लोक कथा उपन्यास

हास्य/व्यंग्य

हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी हास्य व्यंग्य कविता

अनूदित साहित्य

अनूदित कविता अनूदित कहानी अनूदित लघुकथा अनूदित लोक कथा अनूदित आलेख

आलेख

साहित्यिक सामाजिक शोध निबन्ध ललित निबन्ध अपनी बात ऐतिहासिक सिनेमा और साहित्य रंगमंच

सम्पादकीय

सम्पादकीय सूची

संस्मरण

आप-बीती स्मृति लेख व्यक्ति चित्र आत्मकथा डायरी बच्चों के मुख से यात्रा संस्मरण रिपोर्ताज

बाल साहित्य

बाल साहित्य कविता बाल साहित्य कहानी बाल साहित्य नाटक बाल साहित्य आलेख किशोर साहित्य कविता किशोर साहित्य कहानी किशोर साहित्य लघुकथा किशोर हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी किशोर हास्य व्यंग्य कविता किशोर साहित्य नाटक किशोर साहित्य आलेख

नाट्य-साहित्य

नाटक एकांकी काव्य नाटक प्रहसन

अन्य

रेखाचित्र कार्यक्रम रिपोर्ट

साक्षात्कार

बात-चीत

समीक्षा

पुस्तक समीक्षा पुस्तक चर्चा रचना समीक्षा
कॉपीराइट © साहित्य कुंज. सर्वाधिकार सुरक्षित

पूनम कासलीवाल

पापा को चाहिए थी गुड़िया, 
माँ ने माँगी अपनी परछाई,
इसलिए तो दो भाइयों के, 
उपरांत मैं हूँ आई ...
नटखट -चंचल ज़िंदगी से भरपूर, 
हँसना-हँसना यही है बस क़ुबूल,
बचपन बिता मस्ती में, 
गली में किया ख़ूब हुड़दंग,
न चिंता न फ़िकर, 
भाइयों संग किया धमाल,
छोटी बहना को भी किया स्वीकार, 
पढ़ने -लिखने का शौक़ रहा,
अपनाया अध्यापिका का जीवन, 
विवाह उपरांत छोड़ा देश,
पर मोह नहीं छोड़ पायी, 
दो प्यारे बच्चों की माँ,
माँ कम, सखी हूँ ज़्यादा 
माँ, पत्नी, बेटी, बहू,
अनेकों पदवियों का भार, 
इनके सब के बीच भी,
गर्व है मुझे, मुझमें है "मैं" जीवित॥
जन्म : अलीगढ़
शिक्षा : स्नातकोतर (हिन्दी), दिल्ली विश्वविदायलय
भाषाएँ : हिन्दी, अंग्रेज़ी
संप्रति : शिक्षिका
अभिरुचि : चित्रकारी, कविता लेखन, लिखने का शौक़ तो स्कूल से ही था। कॉलेज में भी हल्का - फुल्का लिखा।
शादी होने के बाद नौकरी, परिवार के बीच बस अपने शौक़ दब गए। अब बच्चे बड़े हुये तो पिछले दो साल से क़लम और कूँची दोनों चलने लगी है।
निवास : 1994 से 2008 तक - बहरीन (मिडिल ईस्ट) में निवास, 2008 - अब तक - टोरोंटो (कनाडा)
सदस्य : हिन्दी राइटर्स गिल्ड
 

लेखक की कृतियाँ

कविता

विडियो

उपलब्ध नहीं

ऑडियो

उपलब्ध नहीं