अन्तरजाल पर
साहित्य-प्रेमियों की विश्राम-स्थली

काव्य साहित्य

कविता गीत-नवगीत गीतिका दोहे कविता - मुक्तक कविता - क्षणिका कवित-माहिया लोक गीत कविता - हाइकु कविता-तांका कविता-चोका महाकाव्य खण्डकाव्य

शायरी

ग़ज़ल नज़्म रुबाई कतआ

कथा-साहित्य

कहानी लघुकथा सांस्कृतिक कथा लोक कथा उपन्यास

हास्य/व्यंग्य

हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी हास्य व्यंग्य कविता

अनूदित साहित्य

अनूदित कविता अनूदित कहानी अनूदित लघुकथा अनूदित लोक कथा अनूदित आलेख

आलेख

साहित्यिक सामाजिक शोध निबन्ध ललित निबन्ध अपनी बात ऐतिहासिक सिनेमा और साहित्य रंगमंच

सम्पादकीय

सम्पादकीय सूची

संस्मरण

आप-बीती स्मृति लेख व्यक्ति चित्र आत्मकथा डायरी बच्चों के मुख से यात्रा संस्मरण रिपोर्ताज

बाल साहित्य

बाल साहित्य कविता बाल साहित्य कहानी बाल साहित्य नाटक बाल साहित्य आलेख किशोर साहित्य कविता किशोर साहित्य कहानी किशोर साहित्य लघुकथा किशोर हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी किशोर हास्य व्यंग्य कविता किशोर साहित्य नाटक किशोर साहित्य आलेख

नाट्य-साहित्य

नाटक एकांकी काव्य नाटक प्रहसन

अन्य

रेखाचित्र कार्यक्रम रिपोर्ट

साक्षात्कार

बात-चीत

समीक्षा

पुस्तक समीक्षा पुस्तक चर्चा रचना समीक्षा
कॉपीराइट © साहित्य कुंज. सर्वाधिकार सुरक्षित

डॉ. विनय ‘विश्‍वास’

(मूल नाम: विनय कुमार जैन)

जन्म : सन् 1962 को दिल्‍ली में।
शिक्षा : दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय से हिन्‍दी में एम. फिल. और पी-एच. डी.।
प्रकाशन :
कविताएँ:

आलोचना:

प्रसारण : आकाशवाणी एवं दूरदर्शन द्वारा अनेक बार कविताएँ प्रसारित। राष्‍ट्रीय महत्‍व के अनेक कवि-सम्‍मेलनों में काव्‍य–पाठ।

सम्मान : सन् 2004-05 में हिन्‍दी अकादमी, दिल्‍ली द्वारा कविता संकलन ‘पत्‍थरों का क्‍या है’ को साहित्यिक कृति सम्‍मान।
संप्रति : हिन्‍दी विभाग, कॉलेज ऑफ़ वोकेशनल स्‍टडीज़, दिल्‍ली विश्‍वविद्यालय में एसोसिएट प्रोफ़ेसर।

लेखक की कृतियाँ

कविता

विडियो

उपलब्ध नहीं

ऑडियो

उपलब्ध नहीं