अन्तरजाल पर
साहित्य-प्रेमियों की विश्राम-स्थली

काव्य साहित्य

कविता गीत-नवगीत गीतिका दोहे कविता - मुक्तक कविता - क्षणिका कवित-माहिया लोक गीत कविता - हाइकु कविता-तांका कविता-चोका महाकाव्य खण्डकाव्य

शायरी

ग़ज़ल नज़्म रुबाई कतआ

कथा-साहित्य

कहानी लघुकथा सांस्कृतिक कथा लोक कथा उपन्यास

हास्य/व्यंग्य

हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी हास्य व्यंग्य कविता

अनूदित साहित्य

अनूदित कविता अनूदित कहानी अनूदित लघुकथा अनूदित लोक कथा अनूदित आलेख

आलेख

साहित्यिक सामाजिक शोध निबन्ध ललित निबन्ध अपनी बात ऐतिहासिक सिनेमा और साहित्य रंगमंच

सम्पादकीय

सम्पादकीय सूची

संस्मरण

आप-बीती स्मृति लेख व्यक्ति चित्र आत्मकथा डायरी बच्चों के मुख से यात्रा संस्मरण रिपोर्ताज

बाल साहित्य

बाल साहित्य कविता बाल साहित्य कहानी बाल साहित्य नाटक बाल साहित्य आलेख किशोर साहित्य कविता किशोर साहित्य कहानी किशोर साहित्य लघुकथा किशोर हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी किशोर हास्य व्यंग्य कविता किशोर साहित्य नाटक किशोर साहित्य आलेख

नाट्य-साहित्य

नाटक एकांकी काव्य नाटक प्रहसन

अन्य

रेखाचित्र कार्यक्रम रिपोर्ट

साक्षात्कार

बात-चीत

समीक्षा

पुस्तक समीक्षा पुस्तक चर्चा रचना समीक्षा
कॉपीराइट © साहित्य कुंज. सर्वाधिकार सुरक्षित

साहित्यकार त्रिलोक सिंह ठकुरेला सम्मानित

ब्रजभाषा साहित्य समिति, कोटा (राजस्थान) के तत्वावधान में दिनांक 18 मई 2019 को आयोजित माताश्री शान्ति देवी उपाध्याय स्मृति सम्मान समारोह 2019 के  अंतर्गत  कुण्डलिया  छन्द के सशक्त हस्ताक्षर  व वरिष्ठ साहित्यकार श्री त्रिलोक सिंह ठकुरेला  को महाप्रभु मंदिर के अधिष्ठाता आचार्य विनय कुमार गोस्वामी जी के आशीर्वाद, समारोह के अध्यक्ष वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. रघुनाथ मिश्र ‘सहज’, मुख्य अतिथि श्री अमित भटनागर  (ज़ोनल सेक्रेटरी NFIR नई दिल्ली, अध्यक्ष/मीडिया प्रभारी WCRMS जबलपुर & CRMS मुंबई), विशिष्ट अतिथि विकल्प कोटा इकाई के महासचिव, वरिष्ठ शायर श्री शकूर अनवर, बाल साहित्य के जाने-माने रचनाकार, वरिष्ठ साहित्यकार श्री भगवती प्रसाद गौतम, संस्था के संरक्षक श्री प्रताप  भानु सिंह, अध्यक्ष श्री शून्य आकांक्षी, महासचिव श्री कमलेश कमल, वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के मंडल अध्यक्ष श्री  गिरिराज यादव, मंडल सचिव श्री अब्दुल खलीक आदि की गरिमामयी उपस्थिति में माताश्री शान्ति देवी उपाध्याय स्मृति सम्मान - 2019, समारोह आयोजक श्री गया प्रसाद उपाध्याय जी द्वारा, वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ, कोटा के सभागार में प्रदान किया गया।

उल्लेखनीय है कि साहित्यकार  त्रिलोक सिंह ठकुरेला को उनके साहित्यिक अवदान के लिए  पूर्व में भी राजस्थान साहित्य अकादमी सहित  देश की अनेक साहित्यिक संस्थाओं द्वारा पुरस्कृत और सम्मानित किया जा चुका है।

श्रीमती साधना ठकुरेला

हाल ही में

अन्य समाचार