अन्तरजाल पर
साहित्य-प्रेमियों की विश्राम-स्थली

काव्य साहित्य

कविता नवगीत गीतिका दोहे कविता - मुक्तक कविता - क्षणिका कवित-माहिया लोक गीत कविता - हाइकु कविता-तांका कविता-चोका महाकाव्य खण्डकाव्य

शायरी

ग़ज़ल नज़्म रुबाई

कथा-साहित्य

कहानी लघुकथा सांस्कृतिक कथा लोक कथा उपन्यास

हास्य/व्यंग्य

हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी हास्य व्यंग्य कविता

अनूदित साहित्य

अनूदित कविता अनूदित कहानी अनूदित लघुकथा अनूदित लोक कथा अनूदित आलेख

आलेख

साहित्यिक सामाजिक शोध निबन्ध ललित निबन्ध अपनी बात ऐतिहासिक सिनेमा और साहित्य रंगमंच

सम्पादकीय

सम्पादकीय सूची

संस्मरण

आप-बीती स्मृति लेख व्यक्ति चित्र आत्मकथा डायरी बच्चों के मुख से यात्रा संस्मरण रिपोर्ताज

बाल साहित्य

बाल साहित्य कविता बाल साहित्य कहानी बाल साहित्य नाटक बाल साहित्य आलेख किशोर साहित्य कविता किशोर साहित्य कहानी किशोर साहित्य लघुकथा किशोर हास्य व्यंग्य आलेख-कहानी किशोर हास्य व्यंग्य कविता किशोर साहित्य नाटक किशोर साहित्य आलेख

नाट्य-साहित्य

नाटक एकांकी काव्य नाटक प्रहसन

अन्य

रेखाचित्र कार्यक्रम रिपोर्ट

साक्षात्कार

बात-चीत

समीक्षा

पुस्तक समीक्षा पुस्तक चर्चा रचना समीक्षा
कॉपीराइट © साहित्य कुंज. सर्वाधिकार सुरक्षित

सुमन कुमार घई

7 अगस्त, 1952 को अम्बाला (हरियाणा में जन्मे सुमन कुमार घई का बचपन खन्ना (पंजाब) व लुधियाना (पंजाब) में बीता। भारत में बी.एस.सी. करने के पश्चात पारिवारिक व्यवसाय में कार्यरत हो गये। 1973 में कैनेडा आप्रवास के पश्चात यहाँ पर कंप्यूटर टेक्नोलोजी की शिक्षा ग्रहण की। 1981 तक इसी क्षेत्र में काम भी किया। 1981 से लेकर 2010 तक पारिवारिक व्यवसाय में ही व्यस्त ्रहने के बाद अब सारा समय साहित्यिक गतिविधियों में बीतता है।
किसी भी भाषा का साहित्य सदा से ही मन लगाने का साधन रहा है। विदेश में आने के पश्चात हिन्दी से सम्पर्क टूट सा गया था। परंतु फिर अंतरजाल पर हिन्दी की पत्रिकाएँ आने से यह सम्बन्ध पुर्नजीवित हो गया है।
भारत में जो कुछ भी लिखा कभी प्रकाशित करवाने की चेष्टा नहीं की। अंतरजाल पर पहले "हिन्दी नेस्ट" और फिर 'अनुभूति अभिव्यक्ति' में प्रकाशित होती रहीं।
अंतरजाल पर शायरी नाम से एक विशाल उर्दू की ग़ज़लों व नज़्मों का (1800 से अधिक) संग्रह देवनागरी लिपी में किया है। श्री रामचरितमानस भी सरल अनुवाद सहित करने का प्रयासा अभी जारी है।
कैनेडा में पिछले कुछ वर्षों से साहित्यिक गतिविधियों में पूर्णता व्यस्त हैं। कैनेडा से प्रकाशित होने वाली "हिन्दी चेतना" पत्रिका के सह-सम्पादक रह चुके हैं।
पिछले कुछ वर्षों से "साहित्य कुंज" का प्रकाशन व सम्पादन में व्यस्त।

लेखक की कृतियाँ

कहानी

पुस्तक चर्चा

कविता

किशोर साहित्य कविता

सम्पादकीय

पुस्तक समीक्षा

विडियो

ऑडियो

उपलब्ध नहीं